वेवेल योजना क्या है? यह योजना कब अस्तित्व में आयी? Vevel Yojna 1945

वेवेल योजना 1945
सन् 1945 में स्वतंत्रता आंदोलन के दौरान भारत में गतिरोध उत्पन्न हो गया इसके दौरान गर्वनर जनरल लार्ड वेवेल ने 4 जून को एक योजना प्रस्तावित की जिसे वेवे योजना के नाम से जाना जाता है। 

इस योजना की प्रमुख विशेषताएँ निम्नलिखित थी। 
1- वायसराय की कार्यकारिणी परिषद का दोबारा गठन किया जायेगा औऱ उस परिषद में सभी दलों को प्रतिनिधित्व प्रदान किया जायेगा। 
2- परिषद में वायसराय और सैन्य प्रमुख के सदस्य भारतीय होंगे। यह परिषद तब तक कार्य करती रहेगी जब तक नए संविधान का निर्माण नहीं हो जाता। 
3- परिषद में मुस्लिम और हिंदू सवर्ण संख्या को समानुपात में रखा गया। 
4- कांग्रेस के नेता जो जेल में बंद थे को रिहा करने की बात कही गयी।
5- नए संविधान निर्माण बनाने की छूट भारतीयों को प्रदान की गयी।