तन्हाई बैरक क्या है ? जिसमें निर्भया केस के गुनहगारों को रखा गया



तन्हाई बैरक क्या है ? जिसमें निर्भया केस के गुनहगारों को रखा गया 

तन्हाई बैरक एक ऐसी बैरक बहुत ही कम लंबाई चौड़ाई की बैरक होती है। इस बैरक  में ऐसे कैदियों को रखा जाता है जो ज्यादा खूंखार और आपराधिक प्रवृति के होते हैं। 
यह ऐसी बैरक होती है जो किसी सामान्य कैदी की बैरक से अलग होती है और इसकी लंबाई चौड़ाई और ऊंचाई भी अन्य बैरकों की अपेक्षा कम होती है।

ऐसी बैरक में रहने वाले कैदियों को उसी बैरक में खाने पीने की व्यवस्था मुहैया कराई जाती है और उनका जेल में रहने वाले अन्य कैदियों से संपर्क तोड़ दिया जाता है।

तन्हाई बैरक मुख्यतः स्पेशल कैदियों के रहने के उद्देश्य से तैयार की जाती है और इस प्रकार की बैरक को अन्य बैरकों की अपेक्षा अधिक सुरक्षित माना जाता है। 

गौरतलब है कि अभी हाल में फांसी के फंदे तक पहुंचने वाले निर्भया गैंगरेप केस के चारों आरोपियों को केंद्रीय कारागार तिहाड़ जेल की तन्हाई बैरक में ही रखा गया था। 
उन चारों आरोपियों को तन्हाई बैरक में रखने का मुख्य उद्देश्य यही था कि उन चारों को जेल के अन्य सामान्य कैदियों से अलग रखा जा सके। 
अगर उनको सामान्य बैरक में रखा जाता तो वो अन्य कैदियों के संपर्क में आ सकते थे और ऐसी स्थिति में उन पर हमला हो सकता था इसलिए तन्हाई बैरक में उन आरोपियों को रखने का प्रमुख कारण उनकी सुरक्षा को लेकर भी था।
चूंकि निर्भया गैंगरेप केस रेयर ऑफ द रेयरस्ट केस था तो इस केस के आरोपियों की सुरक्षा की पूरी जिम्मेदारी थी।
.